Fri. May 17th, 2024

दिपक बुझावो मत,दिपक जलावो

By Globalhinduism Dec30,2021
Spread the love


जनमदिन पर दिपक
बुझाने की नही बल्की
दिपक जलाने की
हमारी संस्कृती है !

दिपक जल गया मतलब
जीवन में प्रकाश हो गया
और दिपक बुझ गया
मतलब जीवन में अंधेरा
हो गया…
ऐसा प्रतीत होता है !

इसिलिए साथीयों,
दिपक बुझावो मत,
दिपक जलावो !

चलो प्रकाश की ओर !
चलो नवजीवन की ओर !
चलो संस्कृती की ओर !
हरी ओम्

विनोदकुमार महाजन

Related Post

Translate »
error: Content is protected !!