Spread the love

*कहाँ है तू ???*
✍️२४५४

*विनोदकुमार महाजन*
( आध्यात्मिक पत्रकार )

⁉️‼️❓⁉️‼️❓⁉️

प्रत्यक्ष देहरुप से परमात्मा श्रीकृष्ण अभिमन्यु के साथ होकर भी ?
अभिमन्यु को नहीं बचा सकें !
ऐसा क्यों ?

प्रत्यक्ष परमात्मा श्रीकृष्ण के माँबाप क्रूर और दुष्ट कँस के कारागृह में बंदिस्त रहे !
ऐसा क्यों ?

राम को राजऐश्वर्य का त्याग करके बनवास भोगना पडा !
ऐसा क्यों ?

परशुराम को अपने हे पीता के आदेश के लिए अपनी माता रेणुका का सर काटना पडा !
ऐसा क्यों ?

भक्त प्रल्हाद को अपने ही दुष्ट पीता का भयंकर विनाश देखना पडा !
ऐसा क्यों ?

और…
राजा शिवछत्रपती को सारा ईश्वरी साम्राज्य क्रूर और अधर्मी औरंगजेब के झोली में एक ही झटके में , मिर्जाराजे जयसिंग के सामने , डालना पडा !
ऐसा क्यों ?

धर्म प्रेमी संभाजी राजे को क्रूर , अधर्मी औरंगजेब के सामने ही मृत्यु आ गई !
ऐसा क्यों ?

गुरू गोविंद सिंह का परिवार अधर्मियों ने नेस्तनाबूद किया !
ऐसा क्यों ?

सावरकर का धधकता सत्य जीत न सका !
ऐसा क्यों ?

सुभाषचंद्र बोस के साथ प्रधानमंत्री पद की योग्यता , क्षमता होने के बावजूद भी और चौतरफा यश की रणनीति होने के बावजूद भी , प्रयास होने के बावजूद भी
नियती ने क्रूर विडंबन किया !
ऐसा क्यों ?

हे ईश्वर , हे सत्य का रखवाला , हे दयाघन , सृष्टि रचियता प्रभु…
यह आखिर तेरी कैसी लीला है ?

*सत्य तडपता रहता है ?*

और असत्य अनेक बार जीतता रहता है ? यह तेरा कौनसा न्याय है भगवान ??
और कैसा न्याय है ??

आज भी अनेक सत्यवादी तडप रहे है ! उनके साथ अन्याय हो रहा है ! उनके साथ अत्याचार हो रहा है !

गौमाताओं को तडपा तडपा कर मारा जा रहा है !

*कहाँ है तू ?*
*आखिर कहाँ है तू मेरे प्रभु ?*
सत्य की और सत्य सनातन धर्म की रक्षा के तेरे वचन कहाँ है ?

*कहाँ है तू ? प्रभु कहाँ है तू ??*

सत्य की रक्षा के लिए तथा असत्य की हार के लिए ….

*तुरंत दौडके आ जाना !!*
*गीता का वचन निभाना !!*

⁉️‼️❓⁉️‼️❓⁉️
🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏

Translate »
error: Content is protected !!